Turmeric Tilak: हिन्दू धर्म में चंदन तिलक लगाने के क्या है मायने? जानिये

0

Turmeric Tilak: - दोस्तों हमारे हिन्दू सनातन धर्म में तो अनेकों नियम और तरीके बनाये गये हैं। हमारे धर्म में जो भी किया जाता है उसका एक अपना महत्व भी होता है। पूजा-पाठ करने के साथ ही विधी-विधान के साथ जो भी काम किया जाता है उसके पीछे भी एक कारण होता है। आज इस पोस्ट में हम बात कर रहे हैं तिलक की।जीं हॉ दोस्तों तिलक लगाने का भी अपना एक महत्व है। तिलक क्यों लगाया जाता है इसका महत्व क्या है और तिलक को कैसे उपयोग उपाय के रूप में किया जाता है इस बारे में हम जानेंगे। 

Turmeric Tilak: हिन्दू धर्म में चंदन तिलक लगाने के क्या है मायने? जानिये


हल्दी के तिलक का मतलब और फायदे

tilak lagane se kya hota hai - हल्दी जो की आयुर्वेदिक औषधी है यह हल्दी का तिलक काफी महत्वपूर्ण माना गया है क्योंकि यह हल्दी का तिलक गुरूवार यानी बृहष्पति का प्रतीक है। माना जाता है कि ज्योतिषी के अनुसार बृहस्पति देव की उपासना व भगवान विष्णु की उपासना में गुरूवार का दिन महत्व रखता है  और इसी दिन हल्दी के तिलक का महत्व है और यह दिन शुभ होता है। मान्यता है कि तिलक लगाने से समाज में मस्तिष्क हमेशा गर्व से ऊंचा होता है. हिंदू परिवारों में किसी भी शुभ कार्य में “तिलक या टीका” लगाने का विधान हैं.

Turmeric Tilak: हमारे हिन्दू धर्म में जो बातें तिलक से जुड़ी हुई हैं उसके अनुसार ही  तिलक जब हमारे माथे पर लगाया जाता है तो वह काफी शुभ माना जाता  है।  चाहे सफलता की पाने की बात हो या कोई भी शुभ कार्य किया जाना होता है तो माथे पर तिलक जरूरी लगाया जाता है।  इसके पीछे भी पुरानी रीति शामिल है क्योंकि ऐसे कहा जाता है कि कोई बड़ा काम करने जाने के पहले ही माथे पर तिलक लगाना चाहिए जैसे पुराने समय में लोग युद्ध लड़ने से पहले उनके माथे पर तिलक लगाते थे। वैसे बात पुराणों की की जाये तो इसमें वर्णन मिलता है कि मोक्ष की प्राप्ति होती है तिलक लगाने से संगम तट पर गंगा स्नान के बाद यही कारण है की स्नान करने के बाद पंडों द्वारा विशेष तिलक अपने भक्तों को लगाया जाता है. 

benefits of applying turmeric tilak on forehead

क्या जानते है कि हल्दी का तिलक क्यों लगाया जाता है?  

हल्दी के टीके के फायदे – हल्दी का तिलक ऊर्जा का संचार करता है।।  दरअसल दोस्तों जब हम हल्दी का तिलक लगाते हैं तो यह भौंहों के बीच लगा होने के कारण ही शरीर में एकाग्रता आती है. शरीर में ऊर्जा यानी एनर्जी बना कर रखता  है बीच में होने के कारण आद्या-चक्र के बिंदू अपने आप ही दब जाते हैं। 

Benefits Of Tilak: यह तिलक कई वस्तुओ और पदार्थों से लगाया जाता हैं. इनमें हल्दी, सिन्दूर, केशर, भस्म और चंदन आदि प्रमुख हैं, परन्तु क्या आप जानते हैं कि इस तिलक लगाने के प्रति भावना क्या छिपी हैं?

tilak lagane ke fayde in hindi - दरअसल, हमारे शरीर में सात सूक्ष्म ऊर्जा केंद्र होते हैं, जो अपार शक्ति के भंडार हैं. इन्हें चक्र कहा जाता है. माथे के बीच में जहां तिलक लगाते हैं, वहां आज्ञाचक्र होता है. यह चक्र हमारे शरीर का सबसे महत्वपूर्ण स्थान है, जहां शरीर की प्रमुख तीन नाडि़यां इड़ा, पिंगला व सुषुम्ना आकर मिलती हैं इसलिए इसे त्रिवेणी या संगम भी कहा जाता है.

हिन्दू धर्म में टीके का महत्व क्या है? जानिये? 

सोमवार को शंकर भगवान का दिन होने के साथ हिन्दू धर्म के अनुसार चंद्र गृह इस दिन का स्वामी होता है इसीलिये आपको इस दिन सफेद तिलक लगाना चाहिये। 

मंगलवार  बजरंगबली जी के पूजन का दिन होने के साथ इस दिन का स्वामी ग्रह मंगल है. इस दिन लाल चंदन या चमेली के तेल में घुला हुआ सिंदूर का तिलक लगाना चाहिये। लाल चंदन के तिलक को लगाने के अलावा सिंदूरी तिलक भी हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिये लगाया जाता है। 

बुधवार का दिन भगवान गणपति का होता है । भगवान गणेश को लगने वाले सूखे सिंदूर का तिलक बुधवार के दिन लगाया जाता है। 

गुरुवार के दिन का स्वामी ग्रह है बृहस्पति है और इस दिन भगवान विष्णु की पूजा की जाती है।  हल्दी का तिलक व सफेद चंदन में केसर मिलाकर तिलक लगाना चाहियेलगाना चाहिए. मान्यता है कि इससे दिन शुभ रहेगा और धन संबंधी दिक्कतें भी दूर होती हैं.

शुक्रवार   के दिन का ग्रह स्वामी शुक्र है. माता लक्ष्मी का दिन भी शुक्रवार ही है। इसीलिये आपको इस दिन लाल चंदन का  तिलक लगाना चाहिये. कहा जाता है कि लाल चंदन तनाव दूर रहता है. वैसे इस दिन सिंदूर का भी तिलक लगा सकते हैं. इससे माता लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। 

शनिवार   : शनिवार का ग्रह स्वामी है शनि हैं. इस दिन विभूती, भस्म या लाल चंदन लगाना चाहिए.   

रविवार -  ग्रह स्वामी है सूर्य, जो ग्रहों के राजा हैं.  लाल चंदन अथवा रोली तिलक लगाना चाहिये।


Tags

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !