operation aahat : मानव तस्करी पर शिकंजा कसता RPF

0

ऑपरेशन आहट : मानव तस्करी का खात्मा करता RPF
Railway Protection Force : ऑपरेशन "आहट" (operation aahat ) के तहत रेलवे सुरक्षा बल, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर (sec railway) द्वारा 2 मानव तस्करों की गिरफ्तारी कर 2 लड़कियों को उनके चंगुल से छुड़ाया गया ।

railway rpf operation aahat key : रेलवे सुरक्षा बल द्वारा मानव तस्करी को रोकने के लिये ऑपरेशन आहट शुरू किया गया है।  इस ऑपरेशन का संचालन रेल मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है। rpf full form : Railway Protection Force (RPF) रेल मंत्रालय के अधीन कार्य करता है। ऑपरेशन के तहत  RPF  लंबी दूरी की ट्रेनों में विशेष बल की तैनाती करेगा। यह ऑपरेशन मुख्य रूप से तस्करों से महिलाओं और बच्चों को बचाने पर केंद्रित होगा तथा ऑपरेशन को भारतीय रेलवे द्वारा संचालित हर ट्रेन में लागू किया जाएगा। 

ऑपरेशन आहट : क्या करेगी रेलवे सुरक्षा बल ?

rpf.gov.in : ऑपरेशन आहट से मार्गों, पीडि़तों, स्रोतों, गंतव्य, लोकप्रिय ट्रेनों की जानकारी एकत्र की जाएगी। ऑपरेशन के तहत क्रक्कस्न सुराग जुटाएगा, उसका मिलान और उसका विश्लेषण करेगा। इसके तहत एकत्र किये गए विवरण को अन्य कानून लागू करने वाली एजेंसियों के साथ साझा किया जाएगा। अभी वर्तमान में ऑपरेशन आहट अत्यंत सक्रियता के साथ रेलवे सुरक्षा बल द्वारा जारी है। यह ऑपरेशन हाल ही में द.पू.म.रे. बिलासपुर (dakshin purv madhya railway) के निर्देशन एवं वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त बिलासपुर के मार्गदर्शन में किया गया। 

अभियान के दौरान दिनांक 28 जून 2022 को गाड़ी सं. 18207 दुर्ग-अजमेर एक्सप्रेस के अनूपपुर रेलवे स्टेशन में समय लगभग 23.00 बजे पहुचने पर रेलवे सुरक्षा बल सदस्यों द्वारा गाड़ी को चेक करने के दौरान यात्रियों की मौखिक शिकायत पर कोच नं. एस.-01 में दो नाबालिग लड़कियों को बहला-फु सलाकर ले जाने की सूचना मिली थी। जिसके बाद रेलवे सुरक्षा बल ने अपनी कार्रवाई से दोनों लड़कियों को ट्रेन से उतारने पर दो अन्य सहयात्री साथ में उतरे। पूछताछ में दोनो लड़कियों तथा यात्रियों द्वारा स्पष्ट रूप से कुछ बता नही बताया जा रहा था तथा दोनो लड़कियां घबराई लग रही थी।

लड़कियों को २० हजार में राजस्थान में बेचने जा रहे थे आरोपी

रेलवे सुरक्षा बल के सामने बड़ा चौकाने वाला  खुलासा करते हुए मानव तस्करी का आरोप कबूला।  आरोपियों ने २० हजार रूपये में लड़कियों का सौदा करने की बात कबूली इसीलिये आरोपी रायगढ़ से राजस्थान की ओर जा रहे थे। 

आरोपी जयपुर ले जाकर सूचना पर थाना प्रभारी निरीक्षक के द्वारा दोनो नाबालिग लड़कियों से पूछताछ करने पर लड़कियों ने बताया कि वे थाना कापू व थाना-धर्मजयगढ़ जिला रायगढ़ के ग्रामीण क्षेत्र की रहने वाली है और उनको दोनों व्यक्ति बहला-फुसलाकर कही ले जा रहे है। एक अन्य व्यक्ति जो ट्रेन से नही उतरा वह भी इसमें शामिल था। तीनों व्यक्तियों द्वारा दोनों लड़कियों को २३ जून को उनके गांव से बहला-फु सलाकर रायगढ़ लेकर आए थे। रायगढ़ से दिनांक 26.06.2022 को बिलासपुर लेकर आए वहाँ से दिनांक 27.06.2022 को गाड़ी सं. 18207 में जयपुर ले जा रहे थे।

 दोनों उतारे गए व्यक्तियों से कड़ाई से पूछताछ करने पर एक व्यक्ति थाना- पत्थलगांव जिला जशपुर तथा अन्य एक व्यक्ति थाना-कापू जिला रायगढ़ का रहने वाला बताया। स्वीकार किया कि, दोनो लड़कियों को राजस्थान ले जाकर  20-20 हजार रूपये में बेचते और बताए कि, एक अन्य व्यक्ति जो ट्रेन से नही उतरा, उस व्यक्ति द्वारा जयपुर में लड़कियों को पहूंचाने पर 20 हजार रूपये देने की बात बताई।

 दोनो नाबालिग बच्चियों तथा दोनो आरोपियों के बयान रे.सु.ब. थाना अनूपपुर में आकर दर्ज किए। महिला थाना-अनूपपुर  को भी संपर्क कर पूरी घटना के संबंध में बताते हुए आवष्यक कार्यवाही हेतु निवेदन किया।

railway police full form : रेलवे सुरक्षा बल आगे भी स्थानीय पुलिस के सहयोग से इस प्रकार के मानव तरस्करी के मामलों को रोकने हेतु लगातार अभियान चलाएगी । रेलवे पुलिस का काम ही रेलवे की तथा नागरिकों की सुरक्षा करना असमाजिक तत्वों से तथा नागरिकों को अपराधियों से सुरक्षित रखना है।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !