महाराष्ट्र : बालासाहेब ठाकरे के विचारों के फॉलोवर Raj Thackeray

0

 

Maharashtra Hindi Samachar, Loudspeaker Politics,Latest Maharashtra News, Maharashtra Loudspeaker Row, Bal Thackeray, राज ठाकरे, Maha Vikas Aghadi,

Maharashtra Hindi Samachar- महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर को लकर राज ठाकरे का कहना है कि यह धार्मिक नहीं बल्कि सामाजिक मुद्दा है। आपको बता दें कि महाराष्ट्र की सियासत में शिवसेना के राजदार हैं शिवसेना के संस्थापक बाला साहेब ठाकरे जी (Bal Thackeray) के समर्थक राज ठाकरे ने उन्हीं के नीतियों को अपनी विचारधारा बनाया है।

शिवसेना से नहीं बल्कि महाविकास अघाड़ी (Maha Vikas Aghadi) से है राज ठाकरे की चुनौती
राज ठाकरे ने कई दिनों से लाउडस्पीकर (Loudspeaker Politics) को लेकर आवाज बुलंद कर रखी है। आपको बता दें कि भले ही राज ठाकरे ने यूपी में लाउडस्पीकर बंद किये जाने की प्रशंसा करते हुए अपने ही भाई सीएम उद्धव ठाकरे को भोगी बता दिया था लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि महाराष्ट्र में राज ठाकरे ने शिवसेना से नहीं बल्कि असली मैदानी जंग तो कांग्रेस और NCP से है। 

राज ठाकरे ने बाला साहेब ठाकरे के वीडियो का किया अनुसरण

शिवसेना चीफ सीएम उद्धव ठाकरे ने राज ठाकरे के द्वारा किये गये टिप्पणी को मनोरंजन करार दे डाला था। राज ठाकरे केवल महाराष्ट्र की बात करते हैं।   राज ठाकरे अपने राज्य की किसी भी सामाजिक मुददे पर तीखा प्रहार करने से नहीं हिचकते हैं। इसके पीछे बाला साहेब ठाकरे की सोच और विचारधारा छिपी है। इसीलिये राज ठाकरे ने एक वीडियो टवीट किया था जिसमें बाला साहेब ठाकरे जी ने लाउडस्पीकर को लेकर बात कही थी।
इस जारी वीडियों में बाला साहब लोगों को बता रहे हैं कि लाउडस्पीकर बंद होना चाहिए.. इसमें वे कह रहे हैं- जिस दिन मेरी सरकार महाराष्ट्र में आएगी उस समय रास्ते पर होने वाले नमाज को बंद की करवाए बिना हम नहीं रह पाएंगे. धर्म ऐसा होना चाहिए जो राष्ट्रहित के आगे ना आए. हमारे हिंदू अगर कुछ गलत करते हैं तो हमें आकर बताओ, उस पर हल निकालेंगे, लाउडस्पीकर मस्जिद से नीचे आएंगे.
Latest Maharashtra News - 

 महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर विवाद के बीच एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे के पास धमकी भरे Call आ रहे है और उन्हें परेशान किया जा रहा है.  राज ठाकरे की तरफ से एक पत्र जारी कर कहा गया है कि  उन सभी स्थानों पर आपको हनुमान चालीसा बजानी चाहिए, जहां लाउडस्पीकर से अजान की जाती है. उन्हें बताना चाहिए कि लाउडस्पीकर से क्या दिक्कत होती है. यह एक सामाजिक मुद्दा है. ना कि धार्मिक.

Read - मदर्स डे: Dhoni और कोहली समेत जानिये इन भारतीय क्रिकेटरों की मां के बारे में

Maharashtra Loudspeaker Row-- अब महाराष्ट्र में लाउडस्पीकर परर छिड़़ी सियासत की गाड़़ी का पहिया कहा तक पहुंचता है यह आगे ही पता चलेगा।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !