Bharat Drone Mahotsav 2022 – स्वदेशी ड्रोन से दुनिया को दिखेगी ताकत

0

 

Bharat Drone Mahotsav 2022 – स्वदेशी ड्रोन से दुनिया को दिखेगी ताकत
भारत देश में स्वदेशी उत्पादन

Drone Mahotsav 2022- भारत देश में स्वदेशी उत्पादन अब रक्षा और तकनीकी क्षेत्र में बढ़ता जा रहा है। इसकी सफलता का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि भारत में अब इजरायल की ड्रोन तकनीक के अलावा भारत मेक इन इंडिया योजना के तहत नई ड्रोन तकनीक को अपना रहा है। हाल ही में हमारे देश में सुरक्षा की  दिशा में एक फैसला लेते हुए एंटी ड्रोन का निर्माण करने का फैसला लिया गया था इसी कड़ी में भारत ने विश्व में अपनी एक नई स्वदेशी तकनीक लाने को लेकर भी जोर दिया है। दुनिया अब भारत की ताकत देख रही है। कैसे भारत अपनी सोच और साहस का परिचय देता है।

भारत ड्रोन महोत्सव में दिखेगा स्वदेशी तकनीक

भारत ड्रोन महोत्सव - भारत की नई स्वदेशी तकनीक को  प्रधानमंत्री मोदी  के मौजूदगी में  नई दिल्ली के प्रगति मैदान में भारत के सबसे बड़े ड्रोन उत्सव  भारत ड्रोन महोत्सव 2022 में  देखा जायेगा। इस महोत्सव में किसान ड्रोन पर बात होगी। ड्रोन की प्रदर्शनी भी लगाई जायेगी।

Read-tech news : भारत में सुपर कम्प्यूटर से रिसर्च में आएगी तेजी


 स्वदेशी एंटी-ड्रोन सिस्टम पर हो रहा काम

Bharat Drone Mahotsav 2022- स्वदेशी एंटी ड्रोन से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा का भी ध्यान रखा जायेगा। आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में हथियार भेजने के लिए चाइनीज निर्मित कॉमर्शियल ड्रोन्स का उपयोग पाकिस्तान के आतंकी लाइन ऑफ कंट्रोल और अंतरराष्ट्रीय सीमा के पार होता रहा  दुश्मन के ड्रोन्स को कुछ ही पलों में निष्क्रिय करने के लिये ही स्वदेशी ड्रोन का इस्तेमाल होगा। जिसे डीआरडीओ ने एंट्री ड्रोन टेक्नोलॉजी विकसित की है।

भारत में स्वदेशी  ड्रोन

बात की जाये भारत के पहले स्वदेशी ड्रोन को जून‚ 2021 में  बनाया गया था। यह हैदराबाद स्थित प्रौद्योगिकी अनुसंधान एवं विकास (R&D) फर्म ग्रेने रोबोटिक्स (Grene Robotics) में विकसित किया गया था।  इसका नाम इंद्रजाल’ (Indra Jaal) रखा गया है।

Tags

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ
एक टिप्पणी भेजें (0)

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Learn More
Accept !